Moradabad : पत्नी ने पकड़े पैर और भतीजे ने घोंटा चाचा का गला… चाची से थे नाजायज संबंध

मुरादाबाद के भोजपुर थाना क्षेत्र के मेदनीपुर निवासी फैक्टरी कर्मी हरदयाल की हत्या उसकी पत्नी रिंकी ने अपने प्रेमी सुनेपाल के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने गुरुवार को दोनों को गिरफ्तार कर हत्याकांड 24 घंटे में ही खुलासा कर दिया। पुलिस पूछताछ में महिला और उसके प्रेमी ने कबूला है कि हरदयाल हम दोनों के प्रेम संबंधों में बाधा बन रहा था। इस लिए उसे रास्ते से हटा दिया।

एसपी देहात संदीप कुमार मीना ने बताया कि मेदनीपुर निवासी हरदयाल फैक्टरी में काम करता था। मंगलवार रात फैक्टरी से आने के बाद हरदयाल आंगन में सो गया था जबकि बराबर वाली चारपाई पर उसकी पत्नी और बड़ी बेटे खुशबू (11) सो रही थी। जबकि दूसरी खुशी (4) और बेटा कुशल (8) अपनी नानी के घर मौजूद थे। बुधवार सुबह खुबशू जागी तो उसने देखा कि उसकी मां दुपट्टे से हाथ बंधी हालत में कमरे में पड़ी थी। बच्ची ने अपनी मां के हाथ खोल दिए। हर दयाल की लाश आंगन में चारपाई पर पड़ी थी। महिला ने शोर मचा दिया। आस पड़ोस के लोग आ गए। कुछ ही देर में पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।
पूछताछ करने पर महिला ने बताया कि रात में उसके घर में कुछ लोग घुसे और उसके पति की हत्या कर दी। इसके बाद उसके हाथ बांध दिए और कमरे में बंद कर भाग गए थे। इस मामले में मूंढापांडे के गांव नाजरपुर निवासी हरदयाल के मामा भूरे सिंह की तहरीर पर हत्या का केस दर्ज किया गया। बार बार बयान बदल रही महिला से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सच्चाई उगल दी। महिला ने बताया कि पति हरदयाल शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था। जिससे वह तंग आ चुकी थी। इसी बीच उसके संबंध हरदयाल के भतीजे सुनेपाल से हो गए थे। सुनेपाल एक पैर से दिव्यांग है। हरदयाल को दोनों के संबंधों के बारे में जानकारी हो गई थी।
मंगलवार की रात करीब दस बजे हरदयाल का उसकी पत्नी से झगड़ा हुआ था। जिसके बाद हरदयाल सो गया था। इसके बाद महिला ने सुनेपाल को अपने घर बुला लिया था। रिंकी ने अपने ही दुपट्टे से सुनेपाल के साथ मिलकर चारपाई पर सो रहे पति हरदयाल का गला घोट दिया था। किसी को शक न हो। इस लिए दोनों ने साजिश के तहत रिंकी के हाथ दुपट्टे से बांध दिए थे। इसके बाद आरोपी अपने घर सोने चला गया था। बृहस्पतिवार शाम पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया है।

पत्नी ने पकड़े पैर, भतीजे ने घोंटा था गला

पुलिस की गिरफ्त में आए सुनेपाल और उसकी चाची रिंकी ने पुलिस पूछताछ में बताया था कि हरदयाल घर के आंगन में सो रहा था। इसी बीच महिला ने सुनेपाल को घर में बुला लिया था। सुनेपाल ने रिंकी का दुपट्टा लिया और हर दयाल की गले में डालकर उसे तेजी से कस दिया था। इसी दौरान महिला ने अपने पति के पैर पकड़ लिए थे। दम घुटने से दोनों ने उसे नहीं छोड़ा था। इसके बाद आरोपियों ने हरदयाल को चादर से ढक दिया था।

तीन बच्चे हो गए अनाथ

मुरादाबाद। हरदयाल की दो बेटियां खुशबू, खुशी और बेटा कुशल है। रिंकी ने प्रेमी के साथ मिलकर ऐसी साजिश रची कि उसने एक बार भी अपने बच्चों के बारे में नहीं सोचा। पिता की हत्या कर दी गई और मां हत्या के आरोप में सलाखों में पहुंच गई है। तीनों बच्चे अनाथ हो गए हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *