Sambhal : मुरादाबाद से संभल जा रहे शिवसैनिकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया पीएम को ज्ञापन देने जा रहे थे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज्ञापन देने के लिए जा रहे उद्धव गुट के 75 शिवसैनिकों को पुलिस ने हल्की नोंकझोक के बाद हिरासत में ले लिया। शिवसैनिकों का कहना था कि वह संभल स्थित हरिहर मंदिर को मुक्त कराना चाहते हैं। पकड़े गए लोगों को पीएम के कार्यक्रम के बाद छोड़ा गया। शिवसैनिकों का आरोप है कि संभल में सम्राट पृथ्वीराज चौहान ने हरिहर मंदिर को स्थापित किया था।

आरोप लगाया कि मंदिर को आक्रांताओं ने बंद कर दिया था। दो दशकों से शिवसेना उद्धव गुट की कार्यकारिणी हरिहर मंदिर पर जलाभिषेक कर उसे मुक्त कराने के लिए आंदोलन चला रही है। हर साल सावन में संभल जाने का प्रयास करती है।

प्रधानमंत्री के संभल आगमन पर शिवसेना के राष्ट्रीय नेतृत्व ने प्रदेश प्रमुख अनिल सिंह, पश्चिम उत्तर प्रदेश प्रभारी धर्मेंद्र तोमर व आंदोलन शुरू करने वाली मुरादाबाद इकाई के जिला प्रमुख वीरेंद्र अरोड़ा ने0 प्रदेश के 500 वरिष्ठ पदाधिकारियों की एक टीम बनायी। टीम ने हरिहर मंदिर की मुक्ति के लिए प्रधानमंत्री को ज्ञापन देने का निर्णय लिया।

कार्यक्रम की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश प्रमुख, पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी और मुरादाबाद जिला प्रमुख के घर भारी फोर्स लगा दी घरों में ही तीनों नेताओं को नजरबंद कर दिया। जिला प्रमुख वीरेंद्र अरोड़ा के निवास स्थान पर शिवसेना महानगर मुरादाबाद के लगभग 75 वरिष्ठ पदाधिकारी एकत्रित होकर गाड़ियों से संभल जाने के लिए निकले।

इसी समय भारी संख्या में पुलिस बल ने शिव सैनिकों को रोक लिया। शिव सैनिकों को रोकने के लिए भारी पुलिस बल लगाया गया था। जिसमें पीएसी, सीओ सिविल लाइन, एसडीएम और विभिन्न थानों की फोर्स मौजूद थी। शिव सैनिकों और पुलिस के बीच रोकने पर नोकझोंक हुई। पुलिस ने शिवसैनिकों को आगे नहीं बढ़ने दिया।

सभी पदाधिकारियों ने आपस में विचार विमर्श कर प्रदेश सरकार के खिलाफ सांकेतिक गिरफ्तारी दी। एसडीएम के माध्यम से प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन शिवसैनिकों ने सौंपा। प्रधानमंत्री का कार्यक्रम समाप्त होने के बाद शिव सैनिकों की गई। इस मामले में शिवसैनिकों ने तहसील बिलारी और ठाकुरद्वारा में भी गिरफ्तारियां दी।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से वीरेंद्र अरोड़ा,कमल सिंह राव,मुदित उपाध्यक्ष,राजीव राठौर,शिबू पांडे,तिलक राज शर्मा, अरुण ठाकुर,उमेश ठाकुर,शिबू सैनी, भारत अरोरा,सरदार इंद्रजीत सिंह, उमेश भाटिया,राजीव सक्सेना, विक्की,अर्जुन सिंह,राहुल सिंह, बादाम सिंह,राजपाल,पंकज सिंह, दीपक आदि शिवसेना के 75 वरिष्ठ एवं तहसील के विभिन्न पदाधिकारियों ने अपनी अपनी गिरफ्तारियां दी हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *