Moradabad : सर्दी का असर सब्जियों की कीमत पर दिखा, मुरादाबाद में शिमला मिर्च के साथ अदरक के दाम बढ़े

सर्दी का असर सब्जियों की कीमत पर पड़ा है। सर्दी, जुकाम, अस्थमा, निमोनिया जैसे रोगों में लाभकारी लहसुन के दाम जहां 400 के पार पहुंच गए हैं। इसी तरह अदरक का भाव भी बढ़ा हुआ है।

फुटकर में यह 40 रुपये पाव के हिसाब से 160 रुपये किलो में बिक रहा है। वहीं, शिमला मिर्च के दाम भी तीखे हैं, फिलहाल यह 100 रुपये किलोग्राम तक बिक रही है। इसके अलावा कई अन्य सब्जियों भी इन दिनों महंगी होने की वजह से आम आदमी की पहुंच से दूर हो गई हैं।

फुटकर विक्रेताओं के अनुसार जनवरी की शुरुआत में लहसुन 200 से 250 रुपये प्रति किलो बिक रहा था। बीते 15 दिन में इसके दाम दोगुने हो गए। तेजी से बढ़ रहे लहसुन के भाव को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि अभी कुछ दिनों तक इसके भाव में तेजी बनी रहेगी।

टमाटर भी दिखाने लगा लाली

टमाटर का भाव 15 दिन में 20 रुपये बढ़कर 40 रुपये प्रति किलो पहुंच गया था। हालांकि, अब फुटकर में यह 30 से 35 रुपये किलो तक बिक रहा है। मटर की कीमत भी दस रुपये बढ़ी है। धनिया का दाम भी 15 दिन में दो गुना हो गया है, फिलहाल 100 ग्राम धनिया ही 15 रुपये का मिल रहा है। मंडी में थोक विक्रेताओं का कहना है कि शीतलहर के कारण फसल खराब होने के कारण लहसुन के दाम बढ़े हैं।

बोले विक्रेता

थोक विक्रेता सोनू का कहना है कि थोक में सब्जियों की कीमत कम रहती है, लेकिन फुटकर में विक्रेता दाम बढ़ाकर बेच मुनाफा कमाते हैं। लहसुन की फसल खराब होने और दिल्ली मंडी से आने के कारण कीमत बढ़ी है। फुटकर विक्रेता नितिन कश्यप ने बताया कि सब्जियों के दाम बढ़ने के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सामान्य दिनों की तुलना में लोग कम सब्जी खरीद रहे हैं।

मौसम का बदला मिजाज

मौसम का हर रंग रविवार को देखने को मिला। सुबह घने बादल छाए, फिर बूंदाबांदी हुई, इसके बाद हवा चली और फिर बादलों को चीरते हुए धूप खिल गई। शनिवार-रविवार की रात को बादल छाने लगे थे। सुबह आठ बजे हल्की बूंदाबांदी हुई। लेकिन, कुछ ही देर में धूप भी निकल आई। पश्चिमी हवा चली तो बादल की ओट में सूरज फिर छुप गया। यह सिलसिला सुबह से शाम तक चलता रहा। दिन में वर्षा के कुछ छींटे पड़े। लेकिन, जिस तरह बादल छाए तो उन्हें देखते हुए तेज वर्षा नहीं हुई। सुबह हवा के कारण सर्दी अधिक थी। दोपहर में कुछ कम महसूस हुई।

कोहरा की संभावना

रविवार को न्यूनतम तापमान 12 डिग्री और अधिकतम 18 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार आने वाले दिनों में बादल छाएंगे वर्षा की संभावना कम है। लेकिन, तीन दिन घना कोहरा छाएगा। रविवार को मौसम खराब होने के कारण लोग अपने साथ छाता, रेनकोट लेकर घर से बाहर निकले। लेकिन, छींटे ही पड़कर रह गए। शाम को ठंड बढ़ गई। जिससे लोग जल्दी अपने घरों में दुबक गए।

इस मौसम में खांसी, कोल्ड डायरिया, बुखार की समस्याएं बढ़ी हैं। इसको देखते हुए गर्म कपड़ों में लोग पूरी तरह लैस हैं। कांठ रोड, दिल्ली रोड, रामपुर रोड, संभल रोड समेत हर ओर बादल छाए रहे। बीते दिनों धूप निकलने पर भी फुल जैकेट में ही रहे।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *