Moradabad : 150 कैमरे जांच कर बाइक के नंबर से आरोपियों तक पहुंची पुलिस

बिलारी थाना पुलिस ने ईसापुर के इंतेफाक और बिलारी कस्बे में हर्षनगर मुहल्ले की रीता यादव के घर चोरी करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। इस खुलासे के लिए एसएसपी हेमराज मीना ने पुलिस टीम को पांच हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

पुलिस ने बिलारी से चंदौसी और फिर संभल तक करीब 60 किमी तक मार्ग के आसपास लगे लगभग 150 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जांची, तब जाकर बाइक का नंबर संभल में ट्रेस हुआ। रीता यादव के घर से दिन में चोरी कर एक बाइक पर सवार होकर निकले तीन आरोपियों का पीछा पुलिस ने मार्गों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के जरिए किया।

पुलिस के मुताबिक, फुटेज में बाइक सवार दिख रहे थे लेकिन, नंबर ट्रैस होने में पुलिसकर्मियों को संभल तक के कैमरे जांचने पड़े हैं। पुलिस ने खुलासा किया है कि इंतेफाक व रीता यादव के घर इन्हीं बाइक सवार तीनों बदमाशों ने चोरी की थी। इनमें वकील उर्फ रिजवान, शहजाद और शहनवाज हैं। वकील पुत्र असलम संभल में थाना कोतवाली क्षेत्र में चौधरी सराय निकट मुन्नी माता मंदिर वाल्मीकि मुहल्ले का है। इसका रिश्तेदार शहजाद पुत्र यामीन है, जाे मेरठ के थाना खरखौदा के गांव उलधन का निवासी है।

शहजाद का हाल पता नैनीताल जिले के थाना रामनगर के अगवानपुर निकट पीर मदारा है। इनका साथी शहनवाज पुत्र सलीम है, जो वर्तमान में डासना जेल में निरुद्ध है। इसे नोएडा पुलिस ने 15 दिन पहले ही गिरफ्तार किया था। वैसे यह हापुड़ जिले के मजीदपुरा का रहने वाला है। एसएसपी हेमराज मीना ने बताया कि बिलारी पुलिस ने आरोपी वकील व इसके साथी रिश्तेदार शहजाद को गिरफ्तार किया है। इनके पास से चोरी में उपयोग हुई बाइक (यूपी-38-एन-5386), आभूषण व 5,250 रुपये बरामद किए हैं।

इस तरह आरोपियों तक पहुंची पुलिस
एसपी देहात संदीप कुमार मीना ने बताया कि बाइक नंबर मिलने पर उसकी ऑनलाइन आरसी चेक करने पर पता चला कि इसका स्वामी विवेक पुत्र वेद प्रकाश निवासी चौधरी सराय संभल है। पूछताछ में विवेक ने बताया कि उसकी बाइक को छह महीने पहले वकील उर्फ रिजवान ने 15,000 रुपये में खरीदा था। पुलिस ने वकील का फोटो विवेक को दिखाया तो उसने शिनाख्त कर दी। फिर विवेक से नाम-पता पूछकर पुलिस टीम ने वकील को धर दबोचा। वकील के जरिए पुलिस उसके साथी रिश्तेदार शहजाद तक पहुंच गई थी। इन्होंने अपने तीसरे साथी शहनवाज की भी पहचान कराई।

गैंगस्टर एक्ट का भी है अभियुक्त
पुलिस की पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि 20 सितंबर 2023 को उन लोगों ने दिन में बिलारी के हर्ष नगर के एक घर से जेवर, एलईडी व 26,000 रुपये चोरी किए थे। विवेक से खरीदी बाइक का प्रयोग वह तीनों अपराध करने में प्रयोग करते थे। अभियुक्तों ने 13/14 अगस्त 2023 की रात में ईसापुर में इंतेफाक के घर भी चोरी करने की बात स्वीकारी है। थानाध्यक्ष बिलारी रवींद्र प्रताप सिंह ने बताया कि अभियुक्त वकील उर्फ रिजवान पर 12 मामले दर्ज हैं। संभल के नखासा थाने में पांच, हयातनगर में छह और बनियाठेर थाने में एक मामला दर्ज है। वकील नखासा थाने का गैंगस्टर एक्ट का भी अभियुक्त है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *