Moradabad : विश्व हिंदू महासंघ के जिलाध्यक्ष प्रदीप शर्मा पर हुए हमले का अभी तक नहीं हो पाया है खुलासा

विश्व हिंदू महासंघ के जिलाध्यक्ष प्रदीप शर्मा पर 24 दिसंबर 2023 की रात में हुए जानलेवा हमले में पुलिस अभी तक आरोपियों की पहचान नहीं कर पाई है, जबकि घटना के 37 दिन बीत चुके हैं। घटना सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गई थी। पुलिस ने फुटेज सुरक्षित किए थे।

प्रदीप ने बताया कि घटना के दिन से वह लगभग हर रोज थाने जाकर मामले में अपडेट ले रहे हैं लेकिन, दुर्भाग्य है कि अभी तक इस मामले में पुलिस की प्रगति शून्य ही है। उन्होंने बताया कि घटना के दिन से वह काफी डरे हुए हैं और थानाध्यक्ष कहते हैं कि आपकी तरह से और भी कई घटनाएं हो गई हैं पुलिस उनमें भी लगी हुई है।

पीड़ित ने बताया कि वह इस मामले में सीओ सिविल लाइंस और एसएसपी हेमराज मीना से भी मिले थे, लेकिन फिर भी अभी तक पुलिस दोनों हमलावरों में से किसी एक की भी पहचान नहीं कर पाई है। उन्होंने बताया कि अब वह संगठन में मंडल प्रभारी हो गए हैं। वैसे उनका व्यापार रिसॉर्ट (बरात घर ) और पेट्रोल पंप का है। उन्होंने बताया कि घटना के दूसरे दिन 25 दिसंबर को मझोला थाने में अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध जानलेवा हमला करने के आरोप में मामला दर्ज कराया था। प्रदीप बुद्धि विहार में 9बी/770 के निवासी हैं।

उनके घर के पास हमलावरों ने घात लगाकर हमला बोला था। वह घर के पास आकर जैसे ही कार से उतरे थे कि हमलावरों ने उन पर तमंचे से फायर कर दिया था। उन्होंने भी अपनी पिस्टल लेकर हमलावरों का पीछा किया लेकिन, वह भाग निकले थे। इस संबंध में मझोला थानाध्यक्ष संजय कुमार पांचाल का कहना है कि विश्व हिंदू महासंघ के जिलाध्यक्ष प्रदीप शर्मा मामले में अभी तक कोई प्रगति नहीं हो पाई है। संदिग्धों से पूछताछ कर रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज में कुछ स्पष्ट नहीं दिख रहा है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *