Moradabad : मदरसे में श्री राम को पढ़ाये जाने के सवाल पर सपा सांसद डॉ एसटी हसन का उत्तराखंड पर पलटवार

उत्तराखंड सरकार द्वारा मदरसे में श्री राम को पढ़ाये जाने के सवाल पर सपा सांसद डॉ एसटी हसन ने कड़ी अप्पति जताई। उनका कहना है कि “मदरसे मजहबी दीनी तालीम देते है, और उसमें वो इस्लामी तालीम देते है, जबरदस्ती कोई भी तालीम नही थोपनी चाहिए। कल को अगर में ये कहने लगू की शिशु मंदिर में हजरत गोसे आजम जिलानी रहमते उल्लाह का भी एक सबक होना चाहिए, तो क्या वह यह स्वीकार करेंगे? उत्तराखंड की सरकार यह करेगी? स्कूलों के अंदर कुराने पाक की हिदायत का भी चैप्टर होना चाहिए तो सरकार इसको मान लेगी। वह ये हरगिज नहीं मानेगी।”

सरकार की आदत है कंट्रोवर्सी पैदा करना

सपा सांसद डॉ एसटी हसन आगे कहते है कि “उत्तराखंड के जो मुख्यमंत्री है उनको आदत हो गई है कहाँ कंट्रोवर्सी पैदा करें। कहाँ हिंदू मुस्लिम करें और मुसलमान की कहाँ दिल आजारी हो। वह काम करें उतना ही बड़ा बीजेपी में लीडर बन जाता है। मैं समझता हूं वह कह रहे हैं लागू करेंगे लेकिन इसे कोई स्वीकार करेगा नहीं।”

नीतीश पर बोला हमला, कहा अच्छा हुआ उनकी कलई खुल गई

सपा सांसद डॉ एसटी हसन बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश पर निशाना साधते हुए कहा कि “इंडिया गठबंधन मजबूती से खड़ा है। सब लोग बीजेपी को हराना चाहते हैं। यह तो बड़ा अच्छा हुआ। मैं तो कहता हूं, ऊपर वाले का शुक्रिया अदा करना चाहिए बड़ी जल्दी उनकी कलई खुल गई। अगर चुनाव बाद में कुछ ऐसा हो जाता तो यह इंडिया गठबंधन को जो नुकसान पहुंचाते वह और ज्यादा खतरनाक होता। वह ये सब लालच से कर है उनको कुछ और नजर आ रहा है। यही वजह है बिहार से नौ बार उन्होंने शपथ ली, पांच बार उन्होंने पलटिया मारी। अगर इंडिया गठबंधन जीतता है तो हो सकता की वो फिर से उसमें पलटी मार के वापस आ जाये।”

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *