Moradabad : बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का रैली निकालकर दिया संदेश

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बुधवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संदेश को लेकर एक रैली निकाली गई। जिसे जिसे मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. कुलदीप सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय बालिका दिवस एक महत्वपूर्ण दिन है जो दुनिया भर में बालिकाओं के अधिकारों और उनके सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में जागरूकता बढ़ाने में मदद करता है। यह दिन हमें बालिकाओं के जीवन में सुधार के लिए काम करने और उन्हें एक बेहतर भविष्य देने के लिए प्रेरित करता है।

राष्ट्रीय बालिका दिवस को मनाने का उद्देश्य बेटियों को जागरूक करना है। अपने अधिकारों के लिए, अपनी सुरक्षा और बराबरी के लिए, जिससे वो आने वाली सभी चुनौतियों और परेशानियों का हिम्मत के साथ डटकर मुकाबला कर पाएं। बालिका दिवस का दिन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह लिंग-आधारित चुनौतियों को समाप्त करता है।

बता दें कि दुनिया भर में लड़कियां लिंग से जुड़ी परेशानियों का सामना करती हैं, जिसमें बाल विवाह, उनके प्रति भेदभाव और हिंसा शामिल है। डॉ भारत भूषण नोडल अधिकारी पीसीपीएनडीटी ने कहा कि  राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने का मक़सद लड़कियों के जीवन में आने वाली चुनौतियों और उनके अधिकारों के संरक्षण के बारे में जागरुकता फैलाने और लड़कियों के अधिकारों से रूबरू कराना है।

देश में लड़कियों द्वारा सामना की जाने वाली सभी प्रकार की आसमानताओं को दूर करने के लिए राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। बालिकाओं के अधिकारों के बारे में जागरूकता बढ़ाना उनकी स्वास्थ्य,शिक्षा और पोषण के महत्व को समझना है। इस अवसर पर आशाओं द्वारा रैली निकालकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया गया। रैली में डॉ. सुनील दोहरे अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ संजीव बेलवाल उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ हरीश चंद्र उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी,  प्रमोद कुमार, संतोष कुमार आदि उपस्थित रहे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *